देश राज्य

महाराष्ट्र: मजदूर संगठनों की हड़ताल से बैंक, सरकारी कार्यालय बंद

महाराष्ट्र में केंद्रीय मजदूर संगठनों (सीटीयू) द्वारा आहूत दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल के कारण मंगलवार को अधिकांश बैंक, पत्तन न्यास और केंद्र व राज्य स्तर के कार्यालय वीरान नजर आए। महाराष्ट्र में ट्रेड यूनियन्स जॉइंट एक्शन कमेटी (टीयूजेएसी) के संयोजक विश्वास उटागी ने कहा कि बैंक, बीमा, डॉक, बीएसएनएल, राज्य परिवहन, रेलवे, पत्तन न्यास, रक्षा और अन्य सार्वजनिक उपक्रमों, केंद्र-राज्य सरकारों के उपक्रमों, नगरपालिका श्रमिकों, आंगनवाड़ी कर्मियों, फेरीवाले और अन्य सहित कुल 25 करोड़ लोगों को कवर करने वाले 10 केंद्रीय संगठनों और उद्योगों के स्वतंत्र संघों द्वारा यह हड़ताल आहूत की गई है।

विश्वास ने आईएएनएस से कहा, “मुंबई में सार्वजनिक बस सेवा बेस्ट के कर्मचारी केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ आधी रात से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं।”

विश्वास ने बताया, “आज दोपहर विशाल रैली निकाली जाएगी, जिसे टीयूजेएसी के शीर्ष नेता संबोधित करेंगे। दो दिवसीय हड़ताल के दौरान पूरे महाराष्ट्र में रैलियां और विरोध मार्च भी आयोजित किए जा रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि इस साल लोकसभा चुनाव से पहले यह सबसे बड़ा राष्ट्रव्यापी आंदोलन है, जिसे सभी प्रमुख विपक्षी दलों का समर्थन मिल रहा है।

हालांकि, नरीमन पॉइंट, फोर्ट, वर्ली, बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स, अंधेरी, गोरेगांव और अन्य कई केंद्रीय व्यापारिक जिलों में वाहनों का संचालन आम दिनों की तरह जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *