खेल

ऑस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक जीत के साथ लगी रिकॉर्ड्स की झड़ी, कोहली ने बड़े-बड़े दिग्गजों को छोड़ा पीछे

जसप्रीत बुमराह की कहर बरपाती गेंदों के सामने आखिरकार कंगारुओं ने घुटने टेक दिए. मेलबर्न के MCG में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया पर ऐतिहासिक जीत दर्ज की. 4 टेस्ट मैचों की सीरीज के तीसरे मैच में भारत ने कंगारुओं को 137 रनों से हरा दिया. इसी के साथ भारत 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-1 की अजेय बढ़त बना ली है.

– ऑस्ट्रेलिया में खेले गए तीसरे टेस्ट में जीत दर्ज करने के साथ ही भारत ने सेना देशों (SENA- साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया) में खेली गई टेस्ट सीरीज में दो मैच जीतने का रिकॉर्ड भी स्थापित कर लिया है. भारत ने सबसे पहले 1967/68 में न्यूजीलैंड में टेस्ट सीरीज के दो मैच जीते थे.

 

– मेलबर्न टेस्ट में जीत दर्ज करने के साथ ही कप्तान विराट कोहली ने महेंद्र सिंह धोनी और मंसूर अली खान पटौदी का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया है. बतौर कप्तान विराट कोहली ने सेना देशों में कुल 4 मैच जीते हैं, तो नहीं महेंद्र सिंह धोनी और मंसूर अली खान पटौदी के नाम 3-3 जीत दर्ज है. इसके साथ ही कोहली के नाम एक और रिकॉर्ड दर्ज हो गया है. विदेशी जमीन पर कप्तान के तौर पर विराट कोहली ने कुल 11 टेस्ट मैच जीतकर सौरव गांगुली की बराबरी कर ली है. जबकि महेंद्र सिंह धोनी इस मामले में काफी पीछे हैं, उन्होंने अपनी कप्तानी में भारत को केवल 6 मैच में ही जीत दिलाई थी.

 

– एशिया के बाहर खेले गए टेस्ट मैचों में इस कैलेंडर वर्ष में भारत ने कुल 4 मैच जीते हैं. इससे पहले साल 1968 में भारत ने 3 मैच अपने नाम किए थे. इस कैलेंडर वर्ष में एशिया के बाहर खेलते हुए भारत ने सबसे पहले जोहानिसबर्ग में दक्षिण अफ्रीका को हराया था. इसके बाद भारत ने इंग्लैंड के दौरे पर ट्रेंट ब्रिज में खेले गए टेस्ट में मेजबान टीम को शिकस्त दी थी. और फिर आखिर में ऑस्ट्रेलिया के साथ खेली जा रही मौजूदा टेस्ट सीरीज में भारत ने दो जीत हासिल कर ली है. पहला मैच भारत ने एडिलेड में जीता था और दूसरा मेलबर्न में जीता. खास बात ये है कि इन सभी 4 मैचों में चेतेश्वर पुजारा ने 50 से ज्यादा रनों की पारी खेली.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *