देश राज्य

विवेक तिवारी हत्याकांड : आरोपी सिपाही के समर्थन में 3 दिन की छुट्टी पर जा सकते है यूपी पुलिस के जवान

लखनऊ के गोमती नगर में विवेक तिवारी की हत्या के आरोपी सिपाही प्रशांत चौधरी और संदीप के समर्थन में यूपी पुलिस सामने आई है। सूबे के सभी पुलिसकर्मी विवेक तिवारी हत्याकांड में एकतरफा कार्रवाई और अन्य विभिन्न मांगों को लेकर सामूहिक अवकाश के लिए कोशिश कर रहे है। उत्तर प्रदेश राज्य पुलिस कर्मचारी परिषद ने प्रशांत को निर्दोष बताते हुए शुक्रवार को काला दिवस मनाने और शनिवार को इलाहाबाद में बैठक करने की घोषणा की है।

काला दिवस के दौरान फेसबुक और वॉट्सएप पर प्रदेश के सिपाहियों को मैसेज भेजकर काली पट्टी बांधकर काम करने के लिए कहा जा रहा है। परिषद के महामंत्री व कानपुर पीएसी में तैनात सिपाही अविनाश पाठक ने बताया कि, काला दिवस को अराजपत्रित पुलिस वेलफेयर एसोसिएशन उत्तर प्रदेश के रक्षक कल्याण ट्रस्ट के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिवा यादव ने भी समर्थन दिया है। काला दिवस के लिए ‘खाकी के सम्मान में, उत्तर प्रदेश पुलिस मैदान में’ स्लोगन बनाकर सोशल मीडिया पर प्रचार किया जा रहा है।

पाठक ने बताया कि छह अक्तूबर को इलाहाबाद में बैठक है। इसमें विवेक तिवारी हत्याकांड में सिपाहियों पर एकतरफा कार्रवाई का सांकेतिक विरोध होगा। इस दौरान हंगामा या धरना-प्रदर्शन नहीं होगा। बैठक में ही हत्याकांड, पुलिसकर्मियों की आत्महत्याएं व अन्य समस्याओं पर वहां के डीएम को ज्ञापन सौंपा जाएगा। इसके अलावा अराजपत्रित पुलिसकर्मियों की मांगें शासन तक पहुंचाने के लिए एडीजी इंटेलीजेंस को पत्र भेजा जाएगा। पाठक ने कहा बैठक में विभिन्न जनपदों से 300 सिपाहियों के आने की संभावना है।

बता दें कि विवेक तिवारी हत्याकांड के मामले की चश्मदीद सना ने पहली बार सोमवार को चुप्पी तोड़ी। उसने मीडिया को घटना की पूरी कहानी बताई। सना ने बताया, “मैं घटना के वक्त विवेक के साथ ही गाड़ी में मौजूद थी। सर मुझे गाड़ी से घर छोड़ने जा रहे थे। रास्ते में सिपाही दिखाई दिए जो गुस्से में थे। इसलिए गाड़ी रोकना सही नहीं लग रहा था। हमारी कार सिपाहियों से टच भी नहीं हुई थी, हम लोगों की पुलिस के साथ कोई बहस भी नहीं हुई थी।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *